उत्तर प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड

श्रम विभाग, उत्तर प्रदेश सरकार

उद्देश्य

निर्माण श्रमिकों को उनमें कौशल संबंधी दक्षता विकास एवं तकनीकी उन्नयन के उद्देश्य से आवश्यक प्रशिक्षण सुलभ कराया जाना है। ऐसे प्रशिक्षण में हुए व्यय तथा मजदूरी के नुकसान की प्रतिपूर्ति करना है।


पात्रताः-

पंजीकृत श्रमिक अथवा पत्नी एवं आरित अविवाहित पुत्री व 21 वर्ष से कम आयु वाले पुत्रों को ही मिल सकेगा परन्तु यह कि यदि किसी लाभार्थी का पुत्र प्रशिक्षण में प्रवेश के समय 21 वर्ष से कम आयु का है और प्रशिक्षण के उपरान्त असकी उम्र 21 वर्ष से अधिक हो जाती है तो इस योजना का लाभ उसे भी अनुमन्य होगा। योजना के अन्तर्गत प्रशिक्षण का कार्य व्यवसायिक शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग के कौशल विकास मिशन के तहत कराया जाएगा।

हितलाभः:-

प्रशिक्षण की दशा में संस्था द्वारा निर्धारित शुल्क‚ पाठ्य पुस्तकें एवं प्रशिक्षण से सम्बन्धित अन्य लेखन सामग्री के व्यय की प्रतिपूर्ति बोर्ड द्वारा की जायेगी। श्रमिक के स्वयं प्रशिक्षण में भाग लेने पर प्रशिक्षण अवधि की अनुमन्य मजदूरी भी मिलेगी जबकि आश्रित पुत्र ⁄ पुत्रियों को अनुमन्य नहीं होगी।

आवेदन प्रक्रिया

  1. पंजीकृत निर्माण श्रमिकों द्वारा निर्धारित प्रारूप पर प्रार्थना-पत्र प्रशिक्षण पाठ्यक्रम में प्रवेश लेने के 03 माह के अन्दर प्राप्त होने वाले प्रार्थना-पत्रों में बोर्ड के सचिव द्वारा पर्याप्त कारण उपलब्ध कराये जाने पर ही निर्णय लिया जा सकेगा, परन्तु 06 माह से अधिक विलम्बित अवधि के प्रार्थना-पत्र स्वीकार नहीं किये जायेंगे।
  2. आवेदक द्वारा अपना प्रार्थना पत्र निकटस्थ श्रम कार्यालय अथवा सम्बन्धित तहसील कार्यालय में तहसीलदार को अथवा सम्बन्धित विकास खण्ड कार्यालय में खण्ड विकास अधिकारी को निर्धारित प्रपत्र पर आवेदन पत्र दो प्रतियों में प्रस्तुत किया जायेगा। जिसकी एक प्रति पावती स्वरूप आवेदक को प्रार्थना पत्र प्राप्त करने वाले अधिकारी द्वारा प्राप्ति की तिथि अंकित करते हुए उपलब्ध कराई जायेगी।
  3. आवेदन पत्र के साथ पंजीकृत निर्माण श्रमिक का निर्गत पहचान-पत्र की फोटो प्रति संलग्न किया जाना अनिवार्य होगा।
  4. आवेदन पत्र के साथ प्राप्त प्रशिक्षण करर्यक्रम के प्रमाण-पत्र की फोटोप्रति प्रशिक्षण प्रदान करने वाली संस्था द्वारा दिया गया व्यय का प्रमाण-पत्र मूलरूप में एवं संस्थान द्वारा इस आशय का दिया गया प्रमाण-पत्र कि आवेदक अथवा उसकी पत्नी/पुत्र/पुत्री ने किन तिथियों में प्रशिक्षण प्राप्त किया है, भी संलग्न करना अनिवार्य होगा।

अधिसूचना
zoom